ईद के दिन ISIS ने भेड़-बकरियों की तरह इंसानों को उलटा लटकाकर काटा


आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट त्योहार के मौके पर भी हिंसा से बाज नहीं आ रहा. बकरीद के मौके पर ISIS के आतंकियों ने कुछ बंधकों को मवेशियों की तरह उलटा लटकाया और उन्हें काट डाला. घटना के बाद संगठन ने इसका विडियो जारी किया है.
डेलीमेल के मुताबिक, यह विडियो उत्तर पूर्वी सीरिया के डेर अज-जोर स्थित एक बूचड़खाने में बनाया गया. विडियो में कुछ बंधक नजर आते हैं, जिन्हें अमेरिका का जासूस बताया गया है.


विडियो का शीर्षक 'द मेकिंग ऑफ इलूशन' है. इसमें 2015 में रिलीज टॉम क्रूज की फिल्म 'रोग नेशन' की कुछ क्लिपिंग्स जोड़ी गई हैं. विडियो में उन फिल्मों की क्लिपिंग्स डाली गई हैं, जिनमें जासूसों की गतिविधियां दिखाई गई हैं. बताया जा रहा है कि ISIS ने इस विडियो को विदेशी खुफिया एजेंसियों का मजाक उड़ाने के लिए बनाया है.
मानवाधिकार संगठन 'रक्का इज बींग स्लॉटर्ड' के संस्थापक अबू मोहम्मद ने इस विडियो को अब तक की सबसे खौफनाक फिल्म करार दिया है. अबू ने कहा कि इस विडियो में इंसानों को भेड़-बकरियों की तरह काटा गया.


ISIS के विडियो में एक जगह सफेद कपड़े पहना जल्लाद दोनों हाथों में एक-एक इंसान लेकर आगे बढ़ते दिखता है. बाद में वह इन दोनों के गले रेत देता है. खून उन नालियों से बह जाता है, जिन्हें मवेशियों के लिए बनाया गया है. विडियो में दिखता है कि बंधकों को हुक पर पैर से बांधकर उलटा लटका दिया जाता है. एक-एक करके उनका गला काटा जाता है जबकि बगल में उल्टे लटके दूसरे बंधक अपनी मौत का इंतजार करते दिखते हैं.